Main Menu

लोकायुक्त की छापेमारी में करोड़पति निकला पटवारी

लोकायुक्त की छापेमारी में करोड़पति निकला पटवारी

इंदौर (मध्य प्रदेश) । लोकायुक्त पुलिस इंदौर की छापेमारी में पटवारी के ठिकानों से करोडों की संपत्ति का खुलासा हुआ है । लोकायुक्त ने पटवारी जाकिर हुसैन के घर सहित छह ठिकानों पर छापेमारी की । इस छापेमारी में करीब 18 करोड़ की संपत्ति का खुलासा हुआ है। लोकायुक्त पुलिस ने आय से अधिक संपत्ति जमा करने की शिकायत मिलने के बाद जाकिर हुसैन के खिलाफ ये कार्रवाई की । 

आपको बता दें कि लोकायुक्त पुलिस इंदौर को जाकिर हुसैन के पास आय से अधिक संपत्ति होने की शिकायतें मिली थी। जिसके बाद पुलिस ने बृहस्पतिवार को इंदौर शहर के श्रीनगर कांकड़ इलाके में रहने वाले पटवारी जाकिर हुसैन और उसके मामा सादिक के घर सहित 6 ठिकानों पर छापा मारा। छापे में पटवारी के मामा सादिक के नाम पर नायता मूंडला बायपास स्थित सिल्वर स्प्रिंग टाउनशिप तीन हजार वर्ग फीट का तीन मंजिला मकान, शाजापुर के ग्राम बोलिया में 60 बीघा जमीन, शाजापुर में ही एक दुकान, 18 सौ वर्गफीट का प्लॉट, नकद, जेवर के साथ ही खजराना इंदौर, उज्जैन आदि स्थानों पर मकान व जमीन मिली। पटवारी की सारी संपत्ति उसके मामा सादिक के नाम पर है। टीम ने खजराना स्थित मकान, रेडियो कॉलोनी के मकान और शाजापुर के ठिकाने पर भी दबिश दी। टीम को पता चला कि पटवारी के हाउसिंग बोर्ड के शॉपिंग कॉम्प्लेक्स और बंगाली चौराहे पर दो ऑफिस हैं, जिसे टीम ने सील कर दिया है। बताया जा रहा है कि जाकिर हुसैन ने 2005 में नौकरी ज्वॉइन की थी, और 2018 में वह 17 से 18 करोड़ रुपए का मालिक बन गया। 

लोकायुक्त पुलिस की छापेमारी में मिली संपत्ति:- 

  • इंदौर के नायता मूंडला बायपास स्थित सिल्वर स्प्रिंग टाउनशिप में तीन मंजिला मकान।
  • इंदौर के श्रीनगर कांकड़ में आलीशान घर के अलावा एक फ्लैट।
  • नेमावर रोड पर धूलियां गांव के पास दो बीघा जमीन।
  • शाजापुर में 80 बीघा जमीन, शाजापुर में ही एक दुकान, 18 सौ वर्गफीट का प्लाट।
  • उज्जैन की पदमावती टाऊनशिप में 18 सौ वर्गफीट का प्लाट।
  • इंदौर के खजराना में 520 वर्गफीट का मकान।
  • पटवारी जाकिर के घर से मिले ढाई लाख रुपए नकद।
  • पटवारी के मामा सादिक के यहां मिले 1 लाख 58 हजार रुपए नकद।
  • पटवारी के पिता के नाम पर एक आर्टिका व एक सेंट्रो कार।
  • पटावारी के मामा सादिक के पास भी टाटा टियागो व बोलेरो कुल दो कारें।
  • पटवारी के घर से कई बीमा पॉलिसी भी मिली हैं।
  • सोने और चांदी के जेवरात जिनकी कीमत का आकलन जारी है।
  • पटवारी के घर से बड़ी मात्रा में सरकारी दस्तावेज मिले, जिनकी जांच जारी है।

 

 

 

हमें लिखें

यदि आप कोई सूचना, लेख, ऑडियो-वीडियो या प्रश्न हम तक पहुंचाना चाहते हैं तो हमें भेजें।

सहायता करें


आज जिस तरह मीडिया कारपोरेट ढर्रे पर चल रही है, इसी ने हमें यह संकल्प लेने पर मजबूर किया कि हमें चुपचाप मौजूदा मीडिया के रास्ते पर नहीं चलना है, बल्कि देश के उन करोड़ों लोगों के अधिकारों की आवाज बनना है, जो इस लोकतांत्रिक देश में हर रोज अपने अधिकारों को पाने के लिए पुलिस, अधिकारी और नेता की मनमानी का शिकार बन रहे हैं, लेकिन उनकी सुनने वाला कोई नहीं है। इसीलिए अधिकार एक्सप्रेस में हमने लोकसेवा अधिकारों की जानकारी देने और संबधित घटनाओं को लोगों तक पहुंचाने की शुरुआत की।

हमारा ऐसा मानना है कि यदि लोकसेवा अधिकारों को बचाए रखना है तो ऐसी पत्रकारिता को आर्थिक स्वतंत्रता देनी ही होगी। इसके लिए कारपोरेट घरानों और नेताओं की बजाय आम जनता को इसमें भागीदार बनना होगा। जो लोग भ्रष्टाचार मुक्त सच्ची पत्रकारिता को बचाए रखना चाहते हैं, वे सामने आएं और अधिकार एक्सप्रेस को चलाने में मदद करें। एक संस्थान के रूप में ‘अधिकार एक्सप्रेस’ लोकहित और लोकतांत्रिक मूल्यों के अनुसार चलने के लिए प्रतिबद्ध है। हमारा आपसे निवेदन है कि आप हमें पढ़ें और इस जानकारी को जन-जन तक पहुंचाएं, शेयर करें, और बेहतर करने का सुझाव दें।            (अधिकार एक्सप्रेस आपका, आपके लिए और आपके सहयोग से चलने वाला पत्रकारिता संस्थान है)