आपका अधिकार

Diyaa



Diyaa
अगर आपके आस-पास अधिकार के लिए कोई अच्छा काम कर रहा है या फिर अधिकार का उल्लंघन कर रहा है, जिसे आप लोगों तक पहुंचाना चाहते हैं, तो आप अपनी रिपोर्ट- info.adhikarexpress@gmail.com पर हमें भेजें |

बैंक सेवाओं का अधिकार



बैंक क्या है?

बैंक एक वित्तीय संस्थान है , जिसकी प्राथमिक गतिविधि ग्राहकों के लिए भुगतान के ऐजेंट के रुप में में उधार लेने और उधार देने का कार्य करना है ।

बैंक में जमा खाते

  1. बचत खाते(Savings Accounts)
  2. आवर्ती खाते(Recurring Accounts)
  3. मियादी जमा खाते(Fixed Deposit Accounts)

        1.  बचत खाते(Savings Accounts)

  • हर रोज के इस्तेमाल के लिए खुलवाया जाने वाला खाता 
  • इसमें कभी भी रकम डाली जा सकती है और निकाली जा सकती है ।
  • ये खाते व्यापारिक उद्देश्य से नहीं खोले जाते हैं। इसलिए इस खाते से रकम निकालने पर बैंक कुछ पाबंदी लगाते हैं।
  • एक सीमा से ज्यादा लेन-देन किए जाने प बैंक कुछ शुल्क भी लगा सकते हैं ।
  • इन खातों पर हर छमाही पर ब्याज दिया जाता है ।
  • आमतौर पर महीने की 10 तारीख से अंतिम तारीख के बीच खाते में न्यूनतम राशि पर ब्याज दिया जाता है ।
  • जमाकर्ता महीने के पहले नौ दिन अपना पैसा इस्तेमाल कर सकता है और दसवें दिन उतनी ही रकम खाते में डालकर पूरे महीने का ब्याज पा सकता है ।

        2.  आवर्ती खाते(Recurring Accounts)

  • हर महीने एक निष्चित रकम जमा कर आवर्ती खाता खोल सकते हैं।
  • ये खाते एक निर्धारित अवधि के लिए खोले जाते हैं ।
  • हर महीने जमा की जा रही रकम पर खाते की निर्धारित अवधि पूरी होने तक पूर्व निर्धारित दर से ब्याज मिलता है ।

        3.  मियादी जमा खाते(Fixed Deposit Accounts)

  • इस खाते में एक निष्चित समय के लिए रकम जमा कर दी जाती है ।
  • इसके लिए जमाकर्ता को मियादी जमा रसीद मिलती है।
  • इस खाते में बचत खाते से ज्यादा ब्याज मिलता है ।
  • इसमें ब्याज की दर जमा राशि की अवधि के दौरान नहीं बदलती है ।
  • मियादी खाता एक से ज्यादा रखा जा सकता है और इसका ब्याज हर महीने हर तिमाही व्यक्ति के बचत/चालू खाते में जमा हो सकता है ।
  • आपके मियादी/आवर्ती खाते का अपने नवीकरण होता रहेगा ताकि एक लंबी अवधि के बाद आपको एक बड़ी रकम मिल सके।
  • कुछ बैंक हर महीने बदली जा  सकने वाली किस्तों के आवर्ती खाते भी स्वीकार करते हैं ।
  • अंधे और अनपढ़ लोग भी बैंकों में खाते खोल सकते हैं । उनके लिए विशेष सुविधाएं हैं तथा उन्हें धोखाधड़ी से बचाने के लिए विशेष प्रावधान हैं ।

बैंक जमा खाते खोलने की प्रक्रिया

  • बैंक के किसी खाताधारी अथवा किसी व्यक्ति से परिचय करवाना होगा, जिसकी प्रतिष्ठा से बैंक सुपरिचित हो।
  • उसी बैंक में दूसरा खाता खोलने के लिए दोबारा परिचय कराना जरुरी नहीं है ।
और अधिक पढ़ें  >>>

अधिकार के हीरो

जनमत

फोटो गैलरी

वीडियो

अन्य