आपका अधिकार

Diyaa



Diyaa
अगर आपके आस-पास अधिकार के लिए कोई अच्छा काम कर रहा है या फिर अधिकार का उल्लंघन कर रहा है, जिसे आप लोगों तक पहुंचाना चाहते हैं, तो आप अपनी रिपोर्ट- info.adhikarexpress@gmail.com पर हमें भेजें |

निवास प्रमाणपत्र का अधिकार



निवास स्थान प्रमाणपत्र क्या है ?

निवास प्रमाणपत्र वह दस्तावेज है, जिसे यह साबित करने के लिए जारी किया जाता है कि प्रमाणपत्र पाने वाला व्यक्ति उस राज्य या संघ राज्य क्षेत्र का निवासी है ,जिसके द्वारा यह जारी किया जा रहा है ।

निवास स्थान प्रमाणपत्र के लाभ

1-शैक्षिक संस्थानों औऱ सरकारी सेवाओं में निवास स्थान या निवास कोटा के लिए किया जा सकता है।

2-इसके अलावा प्रदेश के निवासियों के लिए लागू की गयी विशेष योजनाओं में वरीयता का लाभ उठाया जा सकता है ।

निवास स्थान प्रमाणपत्र प्राप्त करने की प्रक्रिया

1-निवास प्रमाणपत्र के लिए निर्धारित आवेदन  ऑनलाइन उपलब्ध होते हैं ।

2-इसके अलावा निवास प्रमाणपत्र सब डिविजनल मजिस्ट्रेट /तहसीलदार का कार्यलाय /राजस्व विभाग /जिला कलेक्टर का कार्यालय या अन्य प्राधिकारी  के पास उपलब्ध होते हैं।

3-निवास प्रमाणपत्र प्राप्त करने के लिए आपको निर्धारित न्यूनतम अवधि के लिए लगातार राज्य या संघ राज्य क्षेत्र में लगातार निवास करने का प्रमाण देना पड़ेगा ।

4-आपको अपनी पहचान को प्रमाणित करने के लिए दस्तावेज, आवश्यकता प्रभारी के अधिकारी के द्वारा फॉर्म को अनुप्रमाणीकरण , स्कूल प्रमाणपत्र और तहसील की पूछताछ रिपोर्ट की भी आवश्यकता पड़ सकती है ।

5-निवास प्रमाणपत्र केवल एक राज्य या संघ राज्य क्षेत्र में बनाए जा सकते हैं ।

6-एक से अधिक राज्य या संघ राज्य क्षेत्र से निवास प्रमाणपत्र प्राप्त करना एक अपराध है ।

निवास प्रमाणपत्र

समय सीमा-20 दिन

शुल्क-20 

संलग्नक सूची

1.स्वप्रमाणित घोषणा पत्र 

2.राशन कार्ड की छाया प्रति/बिजली का बिल

3.वोटर पहचान पत्र की छाया प्रति
4.यदि शिक्षा प्राप्त कर रहा है तो शैक्षणिक प्रमाण पत्र

 

 

अधिकार के हीरो

जनमत

फोटो गैलरी

वीडियो

अन्य