आपका अधिकार

Diyaa



Diyaa
अगर आपके आस-पास अधिकार के लिए कोई अच्छा काम कर रहा है या फिर अधिकार का उल्लंघन कर रहा है, जिसे आप लोगों तक पहुंचाना चाहते हैं, तो आप अपनी रिपोर्ट- info.adhikarexpress@gmail.com पर हमें भेजें |

डाक सेवा का अधिकार



देशभर में डेढ़ लाख से ज्यादा डाकघर हैं । जिसकी सेवाएं लोग कई तरीकों से रोजमर्रा की जिंदगी में इस्तेमाल करते हैं ।

डाक सेवाएं

बड़े डाकघऱ

1-सब पोस्ट ऑफिस

2-हेड पोस्ट ऑफिस

3-जनरल पोस्ट ऑफिस

ये पोस्ट ऑफिस सभी प्रकार की सेवाएं उपलब्ध कराते हैं ।

छोटे डाकघऱ

1-शाखा पोस्ट ऑफिस

2-विभागेत्तर पोस्ट ऑफिस

इन पोस्ट ऑफिसों में रोजमर्रा की जरुरतों की जरुरी सेवाएं ही उपलब्ध होती हैं ।

डाक के प्रकार

पोस्टकार्ड-इसमें लिखी या टाइप की हुई कोई सामग्री भेज सकते हैं , लेकिन भेजने वाले और पाने वाले का पता भी लिखा होना चाहिए।

अंतर्देशीय पत्र- इसमें लिखी या टाइप की हुई कोई सामग्री भेज सकते हैं, लेकिन पत्र के अंदर कोई सामग्री ना रखें।

लिफाफे-  ये लिफाफे डाकघर से लिये जा सकते हैं या छपाए भी जा सकते हैं । इस लिफाफे में दो किलोग्राम वजन तक के ही  डाक भेजे जा सकते हैं । लिफाफे को भेजने के लिए निर्धारित शुल्क देना होगा ।

बुक पैकेट-बुक पैकेज को आमतौर पर बुक पोस्ट भी कहा जाता है । इसमें पत्र, पत्रिकाएं , पुस्तके, कोरा औऱ छपे कागज, चित्र , प्लान ,नक्शा, फोटोग्राफ, ड्राइंग, परिपत्र , संगीत की मुद्रित, जन्मकुंडली , आंशिक या पूरी तरह हस्तलिखित दस्तावेज,आंशिक या पूरी तरह छपे दस्तावेज,विद्यार्थियों का अभ्यास कार्य और कुछ अन्य निर्धारित सामग्री भेजी जा सकती है ।

1-बुक पैकेट की लंबाई 80 सेंटीमीटर और व्यास 10 सेंटीमीटर से ज्यादा नहीं होनी चाहिए।

2-बुक पैकेट में पु्स्तक , शुभकामना अथवा बधाई कार्ड में पाने वाले का नाम और पता  के साथ ही  भेजने वाले का नाम, तिथि, हस्ताक्षर और पांच शब्द तक का शुभकामना संदेश साथ भेजा जा सकता है ।

 3-मुद्रित नोटिस, परिपत्र , निमंत्रण में बैठक अथवा आयोजन की तिथि, तथा समय और बैठक बुलाए जाने का उद्देश्य , भेजने वाले का नाम-पता और पत्र के उत्तर के निर्देश होने चाहिए। ये ज्यादा से ज्यादा 10 शब्दों में होने चाहिए।

4-5 किलोग्राम तक की छपी पुस्तकें बुक पैकेट में भेजी जा सकती हैं।

बुक पैकेज में निम्न काजगजात भेजने पर रोक

1-अदालत के सम्मन और नोटिस तथा अदालत को भेजे जाने वाले दस्तावेज।

2-बिल, इनवाइस, कोटेशन, मूल्य सूची आदि।

3-पत्र मुद्रा जैसे स्टैंप , चेक, हुंडी या करेंसी नोट आदि।

पार्सल भेजने के नियम

1-पैक की हुई वस्तुएं पार्सल के जरिए डाक से भेजी जा सकती हैं । इनकी लंबाई एक मीटर और लंबाई तथा मोटाई मिलाकर 1.8 मीटर से ज्यादा नहीं होने चाहिए।

2-अपंजीकृत पार्सल का वजन 4 किलोग्राम से ज्यादा नहीं होना चाहिए ।

3-शाखा डाकघर को या शाखा डाकघऱ से  भेजे जाने वाले पंजीकृत पार्सल का वजन 10 किलोग्राम से अधिक नहीं होना चाहिए।

 

और अधिक पढ़ें  >>>

अधिकार के हीरो

जनमत

फोटो गैलरी

वीडियो

अन्य