आपका अधिकार

Diyaa



Diyaa
अगर आपके आस-पास अधिकार के लिए कोई अच्छा काम कर रहा है या फिर अधिकार का उल्लंघन कर रहा है, जिसे आप लोगों तक पहुंचाना चाहते हैं, तो आप अपनी रिपोर्ट- info.adhikarexpress@gmail.com पर हमें भेजें |

बौद्धिक संपदा का अधिकार



कॉपीराइट का पंजीकरण

  • आपकी कृति वैसे तो अपने आप आपकी हो जाती है । पंजीकरण की जरुरत नहीं होती है ,
  • लेकिन पंजीकरण करा लेना चाहिएक्योंकि  करने से कृति का वास्तविक स्वरुप निर्धारण कराने में मदद मिलती है।
  • पंजीकरण के लिए आपको निर्धारित फॉर्म में निर्धारित शुल्क के साथ अपना आवेदन कॉपीराइट पंजीयक को भेजना होगा।
  • समुचित जांच के बाद आपकी कृति कॉपीराइट पंजिका  में दर्ज कर ली जायेगी ।
  • कोई भी व्यक्ति निर्धारित शुल्क का भुगतान करके पंजिका के विवरणों की फोटो कॉपी ले सकता है ।
  • अगर किसी कृति का ट्रेडमार्क के रुप में इस्तेमाल किया गया है या इसका ट्रेडमार्क की तरह इस्तेमाल हो सकता है,तो कॉपीराइट के पंजीकरण के आवेदन के साथ ट्रेडमार्क पंजीयक से इस आशय का प्रमाणपत्र भी संलग्न करना होगा । जिसमें यह उल्लेख होगा कि आवेदन के अलावा अन्य किसी व्यक्ति ने ऐसी ही अथवा इससे मिलती जुलती किसी कृति का पहले ही अपने नाम से ट्रेडमार्क पंजीकृत नहीं कराया है ।
  • आप किसी कृति का अपना कॉपीराइट छोड़ भी सकते हैं । इसके लिए आपको निर्धारित फॉर्म में कॉपीराइट पंजीयक को आवेदन करना होगा ।

कॉपीराइट की अवधि

  • साहित्यिक , रंगमंचीय , संगीतिक और कलात्मक कृति के लिए (फोटोग्राफ के अलावा) कृति के रचनाकार के जीवनकाल में और उसकी मृत्यु के 60 साल बाद तक कॉपीराइट।
  • संयुक्त रचनाकार होने पर , रचनाकारों के जीवनकाल में और उनमें से बाद में मरने वाले की मृत्यु के 60 साल बाद तक कॉपीराइट।
  • अज्ञात रचनाकार ( रचनाकार ने अपना नाम ना प्रकट किया हो) होने की स्थिति में-रचना के प्रकाशन से साठ साल बाद तक कॉपीराइट रहेगा।
  • फोटोग्राफ/सिनेमेटोग्राफ  फिल्म/ ऑडियो रिकॉर्ड/ सरकारी या सार्वजनिक प्रतिष्ठान के कार्य के लिए -ऐसे कार्य या कृति  के पहली बार प्रकाशन, प्रदर्शन या रिकॉर्डिंग के पचास साल बाद तक कॉपीराइट रहेगा ।

 कॉपीराइट का हस्तांतरण

  • कॉपीराइट का मालिक कॉपीराइट के अधिकार को पूरी तरह या आंशिक रुप से किसी अन्य व्यक्ति को सौंप सकता है ।
  • किसी भावी कृति का भी कॉपीराइट किसी को दिया जा सकता है । यह लाइसेंस लिखित या हस्तांतरित होना चाहिए।

रेडियो-टेलीविजन प्रसारण संबंधी अधिकार

  • किसी प्रसारण संस्थान के पास अपने यहां से प्रसारित कार्यक्रम के प्रथम प्रसारण से 24 साल तक उसका स्वामित्व रहता है,
  • लेकिन प्रसारण संस्थान के इस अधिकार का प्रसारित कृति के रचनाकार के कॉपीराइट पर कोई असर नहीं पड़ता है।

 

और अधिक पढ़ें  >>>

अधिकार के हीरो

जनमत

फोटो गैलरी

वीडियो

अन्य