आपका अधिकार

Diyaa



Diyaa
अगर आपके आस-पास अधिकार के लिए कोई अच्छा काम कर रहा है या फिर अधिकार का उल्लंघन कर रहा है, जिसे आप लोगों तक पहुंचाना चाहते हैं, तो आप अपनी रिपोर्ट- info.adhikarexpress@gmail.com पर हमें भेजें |

मोबाइल फोन



  • इसे सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम2000 की धारा 43,65 तथा 66 के अंतर्गत अपराध घोषित किया गया है,ये अपराध संज्ञेय तथा जमानती है। 
  • इस मामले की जांच इंस्पेक्टर स्तर का पुलिस अधिकारी करता है। 
  • इस अपराध में धारा 65 के तहत तीन वर्ष का कारावास या दो लाख रुपए तक जुर्माना या दोनों हो सकता है ।
  • इस अपराध में धारा 66 के तहत तीन वर्ष का कारावास या पांच लाख रुपए तक का जुर्माना या दोनों हो सकता है।
  • इस मामले की सुनवाई प्रथम श्रेणी मजिस्ट्रेट के यहां होगी। 

मोबाइल फोन फ्रिकिंग- 

मोबाइल फोन फ्रिकिंग किसी फोन लाइन को अवैध रुप से रोककर उस नेटवर्क की सिक्योरिटी को तोड़कर लंबी कालें करने तथा फोन टेप करने में की जाती है। ऐसा करने वाला व्यक्ति हैकर कहलाता है ।

 

  • ये अपराध सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम2000 की धारा 77-बी के तहत संज्ञेय तथा जमानती है। 
  • इस मामले की जांच इंस्पेक्टर स्तर का पुलिस अधिकारी करता है।
  • इस अपराध में धारा 65 के तहत तीन वर्ष का कारावास या दो लाख रुपए तक जुर्माना या दोनों हो सकता है ।
  • इस अपराध में धारा 66 के तहत तीन वर्ष का कारावास या पांच लाख रुपए तक का जुर्माना या दोनों हो सकता है।
  • इस मामले की सुनवाई प्रथम श्रेणी मजिस्ट्रेट के यहां होगी।
  • मोबाइल फोन की चोरी/छिनैती-

हालांकि भारत में इस संबंध में कोई विनिर्दिष्ट प्रावधान नहीं दिए गए हैं परंतु ब्रिटेन में इस संबंध में एक कानून बना है। ऐसी स्थिति में आप कैसे बचेंगे और मोबाइल का पता लगाएंगे-

  • अपने मोबाइल का आईएमईआई नंबर याद रखें या फिर कही लिख लें। मोबाइल पर IMEI*#06# डायल करने पर आईएमईआई नंबर स्क्रीन पर आ जायेगा।
  • फोन में मोबाइल ट्रैकर साफ्टवेयर डालें। ये साफ्टवेयर मोबाइल में दूसरा सिम कार्ड डालने पर पहले से भरे गए दो लोगों को ऑटोमैटिक एसएमएस कर देता है।
  • मोबाइल चोरी होने की सूचना पुलिस थाने में भी दें।
  • Equipment Identity Register (EIR) बताता है कि चोरी हुए मोबाइल की स्थिति क्या है।
  • Central Equipment Identity Register(CEIR) EIR के साथ नेटवर्क पर आईएमईआई नंबर ढूंढता है।

मोबाइल पर तंग करना/ परेशान करना-

  • मोबाइल पर किसी किसी व्यक्ति को तंग करना भी एक अपराध है। इस संबंध में भारतीय दंड संहिता में कोई विनिर्दिष्ट प्रावधान नहीं हैं परंतु उच्चतम न्यायालय तथा विभिन्न उच्च न्यायालयों ने इसे परिभाषित किया है ।

 

 

और अधिक पढ़ें  >>>

अधिकार के हीरो

जनमत

फोटो गैलरी

वीडियो

अन्य