आपका अधिकार

Diyaa



Diyaa
अगर आपके आस-पास अधिकार के लिए कोई अच्छा काम कर रहा है या फिर अधिकार का उल्लंघन कर रहा है, जिसे आप लोगों तक पहुंचाना चाहते हैं, तो आप अपनी रिपोर्ट- info.adhikarexpress@gmail.com पर हमें भेजें |

मुख्यमंत्री से शिकायत पर भी नहीं लगा हैण्डपंप

May 19, 2016

मैं जयचन्द मौर्य ग्राम मनौवां पोस्ट खमरिया जनपद मीरजापुर का रहने वाला हूँ महोदय मैं पेशे से एक प्राईवेट अध्यापक हूँ आपको अपनी पानी की गम्भीर समस्या तथा विकलांग शादी अनुदान का आज तक न मिलना व जनपद मीरजापुर के विभागिय भ्रष्टाचार के विभिन्न बिन्दूओं पर साक्ष्य के साथ अवगत कराना चाहता हूँ जो निम्न रुपों में है महोदय जी – 1-   प्रार्थी जो एक हाथ व एक पैर से 50 % विकलांग है द्वारा 2011 में अपनी विकलांग पेंशन जिसे गांव के सेक्रेटरी द्वारा किसी भी किमत में न देने कि धमकी दी गयी थी जिसको पाने के लिये मैंने सूचना के अधिकार के तहत लगभग डेढ साल तक राज्य सूचना आयोग में केस लड़कर गांव के 8 साल कि सूचना एकट्ठा कर गांव के विकास मद व अन्य महत्वपूर्ण जानकारियां हासिलकर गांव में ही एक शसक्त सूचना अधिकार कमेटी का गठन कर पेंशन पाने व लोगों को उनका हक दिलाने का प्रयास तब से लेकर आज तक जारी रखा है और अपनी विकलाग पेंशन पा रहा हूँ 2-            महोदय हम दंपत्ति कि शादी दिनांक 9/11/2014 को हुई है और हमने शादीके कुछ महीने बाद ही एस डी एम सदर कार्यालय में स्टाम्प परिवार रजिस्टर व अन्य सभी जरुरी आवश्यक दस्तावेज संलग्न कर कार्यालय में दिया था लेकिन 3 से 4 महिने तक शादी अनुदान कि फाईल कर्मचारियों कि लापरवाही से एक आलमारी में कई दिनो तक पड़ा रहा मैंने कई बार जाकर जब आवेदन कि स्थिति के बारेमें पता करना चाहा तो मुझे कई बार दफ्तर का चक्कर लगानापड़ा बाद में परेशान होकर मैंने एस डी एम सदर महोदय व मा. मुख्यमंत्री जी को ईमेल कर अपनी समस्या से अवगत कराया बाद में मुख्यमंत्री कार्यालय से जिलाधिकारी महोदय को सम्बोधित पत्र मुझे प्राप्तहुआ जिसमे लिखा था सम्बंधित अधिकारी से सम्पर्क कर अपनी समस्या का निवारण करें बाद में मुझे विकलांग कल्याण अधिकारी जनपद मीरजापुर द्वारा फोन द्वारा सूचना दिलाकर मिलने को कहा गया प्रार्थी कैसे करके उनसे भी कार्यालय में जाकर विकलांग शादी अनुदान के अभ्यर्थियों कि सूची में कार्यालय के कम्प्यूटर जिसमे मेरा भी नाम दर्ज था दिखाकर यह कहकर आश्वस्त किया गया था कि हम दन्पत्ति को जल्द ही विकलांग शादी अनुदान मिल जायेगा और मुख्यमंत्री कार्यालय स्तर पर लबित आवेदन को शासन से बजट प्राप्त होते ही योजना से लाभांवित करा दिया जायेगा का रिपोर्ट लगाकर मामला निस्तारित कर दिया गया लेकिन आज तक कुछ भी नहीं हुआ प्रार्थी ने जब विकलांग कल्याण अधिकारी मीरजापुर से सम्पर्क किया गया तो उनका रवैया बिल्कुल भी ठीक नहीं है तथा सुविधा शुल्क के अभाव कि बात मुझे कार्यालय स्तर से प्राप्त हुई कि जब तक मैं सुविधा शुल्क नही दुंगा तब तक कोई भी योजना नही मिलेगी 3- हैडपम्प के लिये मैंने दिनांक 1/10/2013 को तहसील दिवस मीरजापुर में आवेदन किया था जिसके क्रम में अधिशासी अभियंता तत्कालीन जांच अधिकारी द्वारा मा. विधायक से सूची प्राप्त होने पर हैण्डपम्प लगना सम्भव है का रिपोर्ट लगाकर मामले का निस्तारण कर दिया गया लेकिन जब प्रार्थी ने जल निगम कार्यालय जाकर हैण्डपम्प न लगने के कारण का पता लगाया गया तो वहाँ भी सुविधा शुल्क कि बात कि गयी और प्रार्थी ने जब कई माध्यम से शासनतक इसकी शिकायत कि तो मेरे हर आवेदन पर सम्बंधित अधिकारी द्वारा फर्जी जांच रिपोर्ट लगाकर आख्या प्रेषित किया जा रहा है और प्रार्थी जो मानक के तहत आज भी है को बार बार परेशान किया जा रहा है महोदय प्रार्थी के ही गांव में ढेरों हैण्डपम्प मात्र 5 से 10 मीटर के अंतराल पर पैसे लेकर लगाये गये हैं जो आज भी मौके पर मौजूद है मैने गांव में लगे सभी सार्वजनिक हैण्डपम्पों कि सूची सूचना अधिकार से प्राप्त कर सबूत के तौर पर अपने पास रखी है महोदय भ्रष्टाचारभी इस कदर कि 2- 4 हैण्डपम्प जो जनपद मीरजापुर का है जनपद भदोही में पैसे के लेन देन कर लगाया गया है और मेरे द्वारा जब इस फर्जी हैण्डपम्प जो जल निगम कार्यालय मीरजापुर द्वारा लगाया गअया है कि बात अधिशासी अभियंता द्वारा मुझे चैलेंज किया गया है कि शासन जांच रिपोर्ट के आधार पर ही हैडपम्प लगायेगा जब तक हम रिपोर्ट नही लगायेंगे कि मैं जहा हैण्डपम्प लगवाना चाहता हू वो स्थान मानक के तहत है तब तक कुछ भी नही हो गा तुम मुख्यमंत्री से लेकर प्रधानमंत्रीतक जाओ कुछ भी नही होगा 4-            अब महोदय आप ही मुझे मार्गदर्शन दें जिससे मैं इस उपेक्षाकि बात को व फर्जी कारनामे को मीडिया माध्यम से उजागर कर सकूं कृपा कर मेरी मदद करें ।

अधिकार के हीरो

जनमत

फोटो गैलरी

वीडियो

अन्य