आपका अधिकार

Diyaa



Diyaa
अगर आपके आस-पास अधिकार के लिए कोई अच्छा काम कर रहा है या फिर अधिकार का उल्लंघन कर रहा है, जिसे आप लोगों तक पहुंचाना चाहते हैं, तो आप अपनी रिपोर्ट- info.adhikarexpress@gmail.com पर हमें भेजें |

महाप्रबंधक पांच हजार रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार

Feb 27, 2016

भागलपुर (बिहार)। भ्रष्टाचार के खिलाफ डाटा इंट्री ऑपरेटर की जागरुकता के चलते जिला उद्योग केंद्र भागलपुर के महाप्रबंधक इंजीनियर रामचंद्र सिंह सेवानिवृत्ति से तीन पहले ही पांच हजार रुपए रिश्वत लेते गिरफ्तार हो गए। रामचंद्र सिंह अपने ऑफिस सहायक उद्योग निदेशक (कोटि नियंत्रण) के कंबाइंड बिल्डिंग स्थित डाटा इंट्री ऑपरेटर शत्रुघ्न ठाकुर से सेवा विस्तार करने के नाम पर पांच हजार रुपए घूस ले रहे थे, तभी पटना की निगरानी टीम ने इंजीनियर रामचंद्र सिंह को रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया। मामले पर कागजी प्रक्रिया पूरी करने के बाद निगरानी टीम महाप्रबंधक इंजीनयर रामचंद्र सिंह को पटना ले गयी। गिरफ्तारी के बाद पटना ले जाने के दौरान रामचंद्र ने सीने में दर्द की शिकायत की, जिसके बाद उन्हें आऩन-फानन में इलाज के लिए सुल्तानगंज रेफरल अस्पताल ला जाया गया, लेकिन उनकी हालत में सुधार नहीं हुआ। ऐसी दशा में डॉक्टरों ने उन्हें मेडिकल कॉलेज अस्पताल रेफर कर दिया। जहां उनका इलाज चल रहा है।

इस मामले के शिकायतकर्ता जिला उद्योग केंद्र के डाटा इंट्री ऑपरेटर शत्रुघ्न ठाकुर ने बताया कि ऑफिस में उनका सेवा का अनुबंध खत्म हो गया था। ऐसी दशा में जब उसने महाप्रबंधक इंजीनियर रामचंद्र सिंह से मुलाकात की तो उन्होंने फिर से सेवा विस्तार के लिए दस हजार रुपए रिश्वत की मांग की। पैसे देने में सक्षम नहीं होने के चलते उसने पटना की निगरानी टीम से शिकायत कर दी। शिकायत मिलने के बाद निगरानी टीम ने मामले का सत्यापन किया। और फिर तय योजना के मुताबिक उसे शुक्रवार को ऑफिस में महाप्रबंधक को पांच हजार रुपए रिश्वत देने के लिए कहा, ऑफिस में पहुंचने के बाद जैसे ही उसने महाप्रबंधक को पांच हजार रुपए की रिश्वत दी, वैसे ही मौके पर मौजूद पटना की निगरानी टीम ने महाप्रबंधक को रंगेहाथ गिरफ्तार कर लिया। 

अधिकार के हीरो

जनमत

फोटो गैलरी

वीडियो

अन्य