आपका अधिकार

Diyaa



Diyaa
अगर आपके आस-पास अधिकार के लिए कोई अच्छा काम कर रहा है या फिर अधिकार का उल्लंघन कर रहा है, जिसे आप लोगों तक पहुंचाना चाहते हैं, तो आप अपनी रिपोर्ट- info.adhikarexpress@gmail.com पर हमें भेजें |

जेलों में शराब-हथियार से लैस अपराधियों का बोलबाला

Feb 04, 2016

पटना(बिहार)। यहां की जेलों में प्रशासन और अपराधियों के गठजोड़ का सनसनीखेज खुलासा हुआ है। जेलों में शराब से लेकर हथियार और अफीम तक आसानी से मिल जाती है। इसके लिए जरुरत होती है तो बस कुछ चंद रुपयों की। इतना ही नहीं जेल प्रशासन छापेमारी के समय अवैध समानों छिपाने के लिए कैदियों की मदद भी करते हैं। इसका खुलासा मारपीट के दौरान कैदियों ने ही किया है। एक कैदी के मुताबिक जेल में हर वह सामान मिलता है, जो सामान जिसे चाहिए। उसका दावा है कि जेल वॉर्ड दो हजार में, शराब एक हजार में, साधारण मोबाइल एक हजार में, स्मार्ट मोबाइल तीन हजार में और गांजे की पुड़िया एक हजार में जेल में मंगायी जा सकती है।

कैदियों का कहना है कि इस कारोबार को औरंगाबाद का कुख्यात अपराधी ढनढन सिंह चलाता है। इतना ही नहीं जेल में अवैध सामान पहुंचाने के एवज में जेल प्रशासन के लोगों को अपने पद के हिसाब से अपना-अपना हिस्सा लेते हैं। अगर जेल में जिला प्रशासन की छापेमारी होती है तो इसकी सूचना पहले ही दे दी जाती है। वहीं अवैध सामानों को छिपाने में भी जेल के लोग ही मदद करते हैं। इस काम को जेल के दबंग कैदी अंजाम देते हैं।      

अधिकार के हीरो

जनमत

फोटो गैलरी

वीडियो

अन्य