Main Menu

मुद्रा बैंक योजना से कर्ज कैसे प्राप्त करें

मुद्रा बैंक योजना से कर्ज कैसे प्राप्त करें

देश में छोटे कुटीर उद्योगों को बैंक से आर्थिक मदद आसानी से नहीं मिल पाती है और वे नियमों को पूरा नहीं कर पाते हैं। इस वजह से वे उद्योगों को बढ़ावा देने में असमर्थ होते हैं। इसी समस्या के निदान के लिए मुद्रा बैंक योजना की शुरुआत की गयी है। इसका मुख्य लक्ष्य युवा एवं पढ़े लिखे नौजवानों के हुनर को मजबूत धरातल देना है और साथ ही महिलाओं को सशक्त बनाना है। 

मुद्रा बैंक योजना के लिए पात्रता: 

मुद्रा योजना के तहत हर वह व्यक्ति जिसके नाम कुटीर उद्योग है या किसी के साथ पार्टनरशिप के सही दस्तावेज हों या कोई छोटी सी लघु यूनिट हो, वे मुद्रा बैंक योजना के तहत ऋण ले सकते हैं।

मुद्रा बैंक योजना के तहत कर्ज कैसे मिलेंगे: 

  • सबसे पहले ऋण प्राप्त करने के इच्छुक व्यक्ति को नजदीक के किसी बैंक में जाकर प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के लिए बैंक से संपर्क कर उनसे योजना का फार्म प्राप्त करना होगा।
  • इसके बाद ऋण आवेदन फार्म को भरकर साथ में मांगे गए कागजातों और आपके द्वारा किए जाने वाले व्यवसाय या फिर जिस किसी नए व्यवसाय को शुरु करना चाहते हैं, उसका विस्तृत विवरम प्रस्तुत करना होगा।
  • फिर बैंक द्वारा निर्धारित सभी औपचारिकताओं को पूरा करना होगा।
  • इन सभी औपचारिकाताओं को पूरा करने के बाद आपका ऋण मंजूर होगा और फिर आपको ऋण उपलब्ध कराया जाएगा।

मुद्रा ऋण के लिए पात्रता मानदंड / आवश्यक दस्तावेज:  

  • पहचान का प्रमाण – मतदाता पहचान पत्र / ड्राइविंग लाइसेंस / पैन कार्ड / आधार कार्ड / पासपोर्ट की स्व प्रमाणित प्रतिलिपि।
  • निवास का प्रमाण – हालिया टेलीफोन बिल, बिजली बिल, संपत्ति कर रसीद (2 महीने से अधिक पुरानी न हो), मतदाता पहचान पत्र, आधार कार्ड और मालिक / भागीदारों / निदेशकों के पासपोर्ट।
  • अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति / अन्य पिछड़ा वर्ग / अल्पसंख्यक का जाति प्रमाणपत्र।
  • व्यावसायिक उद्यम की पहचान / पते का प्रमाण- संबंधित लाइसेंस / पंजीकरण प्रमाण पत्र / व्यापार इकाई के मालिक, पहचान और पते से संबंधित अन्य दस्तावेजों की प्रतियाँ।
  • आवेदक को किसी भी बैंक / वित्तीय संस्था का ऋणी नहीं होना चाहिए।
  • मौजूदा बैंकर से, यदि कोई, खातों का विवरण (पिछले छह महीनों का)।
  • आयकर / बिक्री कर रिटर्न आदि के साथ यूनिटों की पिछले दो वर्षों की बैलेंस शीट (2 लाख और इससे ऊपर के सभी मामलों के लिए लागू)।
  • कार्यशील पूंजी की सीमा के मामले में और अवधि ऋण के मामले में ऋण की अवधि के लिए एक वर्ष के लिए अनुमानित बैलेंस शीट (2 लाख और इससे ऊपर के सभी मामलों के लिए लागू)।
  • आवेदन जमा करने की तारीख तक मौजूदा वित्तीय वर्ष के दौरान प्राप्त बिक्री की रसीद।
  • परियोजना रिपोर्ट (प्रस्तावित परियोजना के लिए) जिसमें तकनीकी और आर्थिक व्यवहार्यता का विवरण शामिल है।
  • ज्ञापन और कंपनी के संगठन का लेख / साझीदारों आदि के साझेदारी के दस्तावेज।
  • तीसरे पक्ष की गारंटी के अभाव में, निदेशकों और सहयोगियों सहित उधारकर्ता से संपत्ति और देयता कुल मूल्य पता करने की मांग की जा सकती है।
  • मालिक / भागीदारों / निदेशकों के फोटो (दो प्रतियों में)। 

मुद्रा बैंक ने कर्ज लेने वालों को तीन हिस्सों में बांटा हैः

  • व्यवसाय शुरू करने वाले,
  • मध्यम स्थिति में कर्ज तलाशने वाले और
  • विकास के अगले स्तर पर जाने की चाहत रखने वाले।

इन तीन हिस्सों की जरूरतों को पूरा करने के लिए मुद्रा बैंक ने तीन कर्ज उपकरणों की शुरुआत की हैः

  1. शिशुः इसके दायरे में 50 हजार रुपए तक के कर्ज आते हैं।
  2. किशोरः इसके दायरे में 50 हजार से 5 लाख रुपए तक के कर्ज आते हैं।
  3. तरुणः इसके दायरे में 5 से 10 लाख रुपए तक के कर्ज आते हैं।

निम्नलिखित विभिन्न मुद्रा उत्पादों को विभिन्न व्यवसायों की जरूरतों को पूरा करने के लिए कर रहे हैं: 

  1. सेक्टर / गतिविधि विशिष्ट योजना
  2. माइक्रो क्रेडिट योजना (एमसीएस)
  3. क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों के लिए पुनर्वित्त योजना (आरआरबी) /
  4. अनुसूचित सहकारी बैंक
  5. महिला उद्द्यमी योजना
  6. व्यापारी और दुकानदारों के लिए व्यापार ऋण
  7. लापता मध्य ऋण योजना
  8. माइक्रो इकाइयों के लिए उपकरण वित्त
  9. फर्मों के प्रकार जो आवेदन कर सकते हैं :- 

किसी भी प्रकार के फर्म चाहे वह स्वामित्व या साझेदारी हो जो एक गैर कॉर्पोरेट छोटे व्यवसाय के (NCSBS) दायरे में आता है इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। NCSBS एक ग्रामीण या शहरी क्षेत्र में कहीं भी हो सकता है।

  1. एक सेवा क्षेत्र की इकाई
  2. एक विनिर्माण इकाई
  3. एक खाद्य सेवा / खाद्य प्रसंस्करण इकाई
  4. एक छोटी औद्योगिक इकाई
  5. एक फल या सब्जी विक्रेता
  6. एक दुकानदार (आप भी इस योजना का लाभ उठाने के लिए यदि आप एक मताधिकार आउटलेट खोलने की इच्छा कर सकते हैं)
  7. एक ट्रक ऑपरेटर
  8. एक कारीगर
  9. एक महिला उद्यमी 

भविष्य में की जाने वाली कुछ पेशकशः

  1. मुद्रा कार्ड
  2. पोर्टफोलियो क्रेडिट गारंटी
  3. क्रेडिट एनहांसमेंट

मुद्रा बैंक के कामकाज के तौर-तरीके तय हो चुके हैं। यह निर्णय लिया गया है कि सूक्ष्म वित्त संस्थानों की ओर से पैसा उपलब्ध कराया जाएगा। हालांकि, छोटे व्यवसायों को मुद्रा बैंक से जुड़ी पूरी जानकारी हासिल करने और कर्ज के लिए कौन पात्र है और इस योजना का लाभ किस तरह लिया जा सकेगा, इसकी स्पष्टता के लिए इंतजार करना होगा।

मुद्रा बैंक पर ज्यादा जानकारी के लिए 

लाग आन करेः http://pmindia.gov.in/en/news_updates/pm-launches-pradhan-mantri-mudra-yojana/

मुद्रा बैंक सम्पर्क करने का विवरण: 

रजिस्टर्ड ऑफिस सिडबी, ग्राउंड फ्लोर, वीडियोकॉन टॉवर, झंडेवाला एक्सटेंशन, ई -1, रानी झांसी रोड, नई दिल्ली – 110055           

मुख्य व्यवसायिक कार्यालय एमएसएमई डेवलपमेंट सेंटर, सी -11, जी-ब्लॉक, बांद्रा कुर्ला कॉम्प्लेक्स, बांद्रा ईस्ट, मुंबई – 400 051

मुद्रा बैंक टोल फ्री नंबर  

मुद्रा कार्ड 

एक पूर्व लोड मुद्रा कार्ड भी उपकरणों, कच्चे माल और पंजीकृत उत्पादकों से या ऑनलाइन साधनों के माध्यम से खरीद के लिए उपलब्ध हो जाएगा। इस कार्ड पर क्रेडिट सीमा, उद्यम के लिए मंजूर ऋण सीमा का 20% होगा । एक कार्ड पर 10,000 रूपये की अधिकतम ऋण सीमा के साथ किया जा रहा है। प्रिंसिपल जारीकर्ता होगी मुद्रा और कार्ड पोर्टफोलियो का 20% तक का ऋण जोखिम मुद्रा के रूप में ऋण गारंटी योजना के तहत कवर किया जाएगा। शेष जोखिम एमएफआई सहयोगियों के साथ बने रहेंगे।

इसके अलावा एक सुविधा को बाद में जोड़ने के लिए आपका   (उधारकर्ता) मुद्रा कार्ड बनाया जा सकता है प्रधानमंत्री जन धन योजना बचत खाता और भी तत्काल समस्याओं को पूरा करने के लिए बैंक के एटीएम नेटवर्क के माध्यम से अपने सूक्ष्म इकाई के लिए आवश्यक राशि प्राप्त करने के लिए सुविधा हो सकती है 

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के लिए राज्यवार टोल फ्री नम्बर:

क्र.सं.  राज्य/यू.टी का नाम                            टोल फ्री नम्बर

1          अंडमान-निकोबार द्वीप समूह                        18003454545

2          आंध्र प्रदेश                                               18004251525

3          अरुणाचल प्रदेश     अंडर प्रोसेस

4          असम अंडर प्रोसेस

5          बिहार                                                      18003456195

6          चंडीगढ़                                                    18001804383

7          छत्तीसगढ़                                                18002334358

8          दादरा नगर हवेली                                       18002338944

9          दमन-दीव                                                18002338944

10        गोवा  अंडर प्रोसेस

11        गुजरात                                                    18002338944

12        हरियाणा                                                  18001802222

13        हिमाचल प्रदेश                                           18001802222

14        जम्मू और कश्मीर                                      18001807087

15        झारखंड                                                   18003456576

16        कर्नाटक                                                   180042597777

17        केरल                                                      180042511222

18        लक्षद्वीप                                                 0484-2369090

19        मध्यप्रदेश                                                18002334035

20        महाराष्ट्र                                                  18001022636

21        मणिपुर      अंडर प्रोसेस

22        मेघालय      अंडर प्रोसेस

23        मिजोरम     अंडर प्रोसेस

24        नागालैंड      अंडर प्रोसेस

25        एनसीटी ऑफ दिल्ली                                  18001800124

26        ओडिशा                                                  18003456551

27        पांडुचेरी                                                  18004250016

28        पंजाब                                                    18001802222

29        राजस्थान                                               18001806546

30        सिक्किम                                                18003453256

31        तमिलनाडु    अंडर प्रोसेस

32        तेलंगाना                                                 18004258933

33        त्रिपुरा                                                     18003453344

34        उत्तरप्रदेश                                               18001027788

35        उत्तराखंड                                                18001804167

36        पश्चिम बंगाल                                           18003453344

क्र. सं. राष्ट्रीय टोल फ्री नम्बर

  1. 18001801111
  2. 1800110001 

http://www.mudra.org.in/ContactUs 

मुद्रा बैंक के बारे में अधिक जानकारी के लिए, कृपया लॉग ऑन करें: http://www.mudra.org.in

हमें लिखें

यदि आप कोई सूचना, लेख, ऑडियो-वीडियो या प्रश्न हम तक पहुंचाना चाहते हैं तो हमें भेजें।

सहायता करें


आज जिस तरह मीडिया कारपोरेट ढर्रे पर चल रही है, इसी ने हमें यह संकल्प लेने पर मजबूर किया कि हमें चुपचाप मौजूदा मीडिया के रास्ते पर नहीं चलना है, बल्कि देश के उन करोड़ों लोगों के अधिकारों की आवाज बनना है, जो इस लोकतांत्रिक देश में हर रोज अपने अधिकारों को पाने के लिए पुलिस, अधिकारी और नेता की मनमानी का शिकार बन रहे हैं, लेकिन उनकी सुनने वाला कोई नहीं है। हालांकि जब हमने इसे शुरु किया तो हमारे सामने आर्थिक चुनौती खड़ी हो गयी, लेकिन हमने चुनौती को स्वीकार करते हुए थोड़े कम पैसों में ही एक कठिन रास्ते पर चलने की ठान ली और एक गैर-लाभकारी कंपनी बनाई। इंटरनेट का सहारा लिया और बिल्कुल अगल ही तरह का न्यूज पोर्टल बनाया। इसमें हमने अधिकारों की जानकारी देने के साथ ही अधिकारों से संबधित घटनाओं को लोगों तक पहुंचाने की शुरुआत की।

हमारा ऐसा मानना है कि यदि लोकसेवा अधिकारों को बचाए रखना है तो ऐसी पत्रकारिता को आर्थिक स्वतंत्रता देनी ही होगी। इसके लिए कारपोरेट घरानों और नेताओं की बजाय आम जनता को इसमें भागीदार बनना होगा। जो लोग भ्रष्टाचार मुक्त सच्ची पत्रकारिता को बचाए रखना चाहते हैं, वे सामने आएं और अधिकार एक्सप्रेस को चलाने में मदद करें। एक संस्थान के रूप में ‘अधिकार एक्सप्रेस’ लोकहित और लोकतांत्रिक मूल्यों के अनुसार चलने के लिए प्रतिबद्ध है। हमारा आपसे निवेदन है कि आप हमें पढ़ें और इस जानकारी को जन-जन तक पहुंचाएं, शेयर करें, और बेहतर करने का सुझाव दें।            (अधिकार एक्सप्रेस आपका, आपके लिए और आपके सहयोग से चलने वाला पत्रकारिता संस्थान है)